How to boost testosterone in Hindi | healthgyaantips

Spread the love

दोस्तों क्या आप का क्या है टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone)  low  है या फिर अपनी टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone) को बढ़ाना चाहते हो तो इस

आर्टिकल को जरूर अंत तक पढ़े क्योंकि इस आर्टिकल में हमने आपके साथ टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone) को कैसे बढ़ाया (how to

boost testosterone) जाता है और लो टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone) के क्या क्या लक्षण होते हैं इन सभी बातों को डिटेल में बताया है | 

 

क्या है टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone) ? 

 

टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone) पुरुषों में पाए जाने वाला एक तरीके का हार्मोन होता है | टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone) पुरुषों के अंडकोष मैं बनता है |

दोस्तों टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone)  हमारे शरीर के लिए बहुत ही जरूरी होता है क्योंकि टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone)  पुरुषों की आवाज

में भारीपन,  दाढ़ी और मूंछ का आना, और बॉडी का गिरोह होना आदि जैसी चीजें हमारेटेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone)  पर ही depend  होती हैं |

टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone) हमें बहुत सारी बीमारियों से भी बचाता है |

दोस्तों लो टेस्‍टोस्‍टेरॉन  के कारण हमारे शरीर में दिल की बीमारियां, थकान या कमजोरी और यौन इच्छा का कमजोर होना आदि जैसी

समस्याएं हो जाती हैं | टेस्‍टोस्‍टेरॉन हमारे खान पान,  दिनचर्या और उम्र पर निर्भर करता है |

टेस्‍टोस्‍टेरॉन को पुरुषों के लिए मर्दानी शक्ति माना जाता है  | दोस्तों वैसे तो टेस्‍टोस्‍टेरॉन  महिलाओं और पुरुष दोनों में पाया जाता है परंतु

महिलाओं में टेस्‍टोस्‍टेरॉन  बहुत कम मात्रा में पाया जाता है |

टेस्‍टोस्‍टेरॉन महिला और पुरुषों दोनों के अंडकोष में बनता है | दोस्तों टेस्‍टोस्‍टेरॉन  का लेवल महिलाओं में कम होना चाहिए और एक पुरुष के

अंदर टेस्‍टोस्‍टेरॉन  का लेवल ज्यादा से ज्यादा होना चाहिए टेस्‍टोस्‍टेरॉन  पुरुषों के लिए बहुत ही जरूरी हार्मोन होता है | 

 

कम टेस्टोस्ट्रोन के लक्षण ?

वजन का बढ़ना या कम होना –

how to lose belly fat

टेस्‍टोस्‍टेरॉन ठीक कम होने से हमारे शरीर में अनियमित रूप से वजन बढ़ने या घटने लगता है जिसका प्रभाव हमारी मांसपेशियों पर भी पड़ता है और उन्होंने तनाव आ जाता है |

दूध तो चाहे आप अपना वजन बढ़ाना या घटाना चाहते हो और आप नियमित रूप से व्यायाम और अपनी डाइट भी फॉलो कर रहे हो परंतु

आपकी बॉडी उससे shape मैं नहीं आ रही जिससे अपने आप चाहते हो तो दोस्तों यह लो टेस्टोस्टरॉन का होना बताता है आपकी बॉडी में | 

 

चिड़चिड़ापन –

Anger and irritate

टेस्‍टोस्‍टेरॉन की कमी के कारण हमारे स्वभाव में बहुत ज्यादा चिड़चिड़ापन हो जाता है क्योंकि लो टेस्‍टोस्‍टेरॉन से हमारे शरीर में ज्यादा

 

थकान में कमजोरी रहती है और उसका प्रभाव हमारे दिमाग पर भी पड़ता है जिसके कारण पुरुषों में ज्यादा तौर पर चिड़चिड़ापन दिखाई देता है | 

 

दिल का कमजोर होना –

heartache

 

हमारे शरीर में लो टेस्‍टोस्‍टेरॉन  के कारण दिल के रोगों व समस्याओं होने के संभावना  बहुत बढ़ जाते हैं और दिल के दौरे की संभावना बढ़ जाती है |

 

शरीर में कमजोरी –  

anxiety

 

लो टेस्‍टोस्‍टेरॉन होने की वजह से हमारे शरीर में बहुत ज्यादा सुस्ती व कमजोरी हो जाती है | पूरे दिन नींद का आना और हम लो एनर्जेटिक या पूरे दिन आलस फील करते हैं | 

 

कामवासना का कम होना  –

upset or sad

 

जी हां दोस्तों लो टेस्‍टोस्‍टेरॉन  के कारण  हमारी sex power  कम हो जाती है शायद आपको यह बहुत अजीब लग रहा होगा परंतु इसका इफेक्ट हमारे sex life  पर भी पड़ता है |

 

टेस्ट्रोस्ट्रॉन की कमी से बचाव

How to boost your testosterone in hindi

चली दोस्तों अब बात करेंगे कि हम अपने टेस्‍टोस्‍टेरॉन को बढ़ा सकते हैं | how to boost your Testosterone 

 

  • दोस्तों जब भी आप सुबह को सो कर उठे हैं तो सबसे पहले आप अपना एक हाई प्रोटीन वाला ब्रेकफास्ट जरूर लें हाई प्रोटीन ब्रेकफास्ट के लिए आप अंडे, हरी सब्जी और व्हे प्रोटीन का भी प्रयोग कर सकते हो | 

 

  • दोस्तों नसे और धूम्रपान जैसी चीजों से कृपया दूरी बनाए क्योंकि यह आपके टेस्टोस्टरॉन लेवल को कम कर देती है | 

 

  • आपको बता दें की नींद का भी टेस्टोस्टेरॉन पर असर पड़ता है। आप कितने घंटे सोते है, इसका प्रभाव आपके टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की प्रोडक्शन पर पड़ता है।इसलिए आपको रात में कम से कम 7-8 घंटों के लिए जरूर सोना चाहिए, क्योंकि शरीर में 70% टेस्टोस्टेरोन निद्रावस्था में उत्पन्न होता है।

 

  • यदि आप मीठा कम खाते है तो ये अच्छी बात है, क्योंकि इससे आपके शरीर में शर्करा का स्तर ठीक रहता है। लेकिन जब आप मीठा ज्यादा खाते हैं, तो आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन का स्तर अपने आप कम होने लगता है। इसलिए एक सीमित मात्रा में ही मीठे का सेवन करें।

 

  • दोस्तों नियमित रूप से आपको व्यायाम और योग जरूर करना चाहिए क्योंकि व्यायाम और योग करने से हमारे शरीर मजबूत बनता है और साथ ही हमारा टेस्‍टोस्‍टेरॉन  लेवल को भी बढ़ा देता है जिससे हमारा शरीर और भी ज्यादा एक्टिव और एनर्जेटिक हो जाता है|  इसलिए हमें रोजाना नियमित रूप से व्यायाम करना चाहिए|  और दोस्तों व्यायाम में अगर आप weight training करते हो तो यह सोने पर सुहागा जैसी बात हो जाएगी मतलब weight training बहुत ही असरदार होती है आपके लो टेस्‍टोस्‍टेरॉन  को बढ़ाने के लिए weight training एक इकलौता ऐसा तरीका है जिससे आप अपनेलो टेस्‍टोस्‍टेरॉन  को बहुत जल्दी बढ़ा सकते हो इसलिए दोस्तों आप अपने व्यायाम में weight training को जरूर शामिल करें | 

 

  • दोस्तों dry fruits  मेवा को अपने खाने में जरूर शामिल करें मेवा के अंदर बहुत सारे विटामिंस और न्यूट्रेंस पाए जाते हैं | जो हमारे शरीर के लिए अच्छे होते हैं मेवा में सबसे ज्यादा असरदार खजूर(date palm) और छुआरे होता है आपके टेस्टोस्टरॉन लेवल को बढ़ाने के लिए | खजूर(date palm) और छुआरे का सेवन आप रात को सोते टाइम करें जब दोस्तों आप सोने जाएं उससे 15 से 30 मिनट पहले एक गर्म गिलास दूध के साथ 4-6  छुहारे या खजूर खाएं | अगर आप नियमित रूप से रोजाना लगभग 15 से 30 दिन तक रोज एक गिलास दूध के साथ 4-6  छुहारे या खजूर खाते हो तो आपको बहुत जल्द असर दिखने लगेगा | 

 

  • दोस्तों आपको अपने शरीर की मालिश जरूर करनी चाहिए मालिश करने से भी हमारे शरीर में टेस्टोस्टरॉन लेवल बढ़ता है | दोस्त मालिश करते टाइम आप सरसों का तेल, तिल का तेल या फिर गोले के तेल का भी प्रयोग कर सकते हो मालिश करने से आपका टेस्टोस्टरॉन लेवल बढ़ने लगता है और साथ में मालिश से आपकी स्किन और glow हो जाती है | 

 

 

Leave a Comment